HomeNATIONALCHHATTISGARHराजनीतिक जमीन खिसकने लगी तो जनता के लिए अचानक फिक्रमंद होने लगे...

राजनीतिक जमीन खिसकने लगी तो जनता के लिए अचानक फिक्रमंद होने लगे भाजपा नेता : अलताफ

संध्या सिंह

  
दुर्ग। राज्यसभा सांसद सरोज पांडेय द्वारा नगर निगम के खिलाफ आंदोलन को मध्य ब्लॉक कांग्रेस कमेटी दुर्ग के अध्यक्ष अलताफ अहमद ने नौटंकी करार दिया है। अलताफ ने कहा कि जैसे-जैसे चुनाव करीब आ रहे है, भाजपा नेताओं को आंदोलन की याद आने लगी है। भाजपा नेताओं को अगर आम जनता की फिक्र है तो उन्हें केंद्र सरकार की महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ आंदोलन करना चाहिए।

अलताफ ने कहा कि भाजपा नेता पता नहीं कौन सा चश्मा पहनते हैं कि उन्हें दुर्ग का चौमुखी विकास नजर नहीं आ रहा है। अलताफ ने कहा कि भाजपा नेताओं को बताना चाहिए कि शहर में तीन बार डायरिया और पांच बार पीलिया किन-किन के कार्यकाल में फैला। डायरिया से दर्जन भर लोगों की मौत किसके कार्यकाल में हुई और पीलिया से 22 लोगों की मौत किसके कार्यकाल में हुई? शहर में पीलिया और डायरिया का प्रकोप तब फैला. जब भाजपा की परिषद थी और सरोज पांडेय, डा शिव कुमार तमेर और चंद्रिका चंद्राकर महापौर रहीं। दुर्ग शहर में कांग्रेस की परिषद की यह उपलब्धि है कि ढाई साल में एक बार भी संक्रामक बीमारियां नहीं फैली हैं।  

विधायक अरुण वोरा के मार्गदर्शन में महापौर धीरज बाकलीवाल और कांग्रेस की परिषद ने शहर में विकास का नया आयाम स्थापित किया है। शंकर नाला पक्कीकरण कार्य पिछले 15 साल से अधूरा था, जिसे बीते ढाई साल में तेजी से पूरा कराया जा रहा है। 15 साल में जितना पक्कीकरण किया गया उससे ज्यादा ढाई साल में कर दिया गया है। नालों की सफाई में हर साल लाखों रुपए का टेंडर किया जाता था जिसे अब निगम के संसाधनों से कराते हुए लाखों रुपए की बचत की जा रही है।    

अलताफ ने कहा कि विधानसभा चुनाव में करारी पराजय के बाद से भाजपा पिछले साढ़े तीन साल से कोमा में चली गई थी। चुनाव करीब देखकर अब इन्हें जनता की फिक्र होने लगी। भाजपा के लोग उस समय कहां थे, जब दुर्ग शहर कोरोना की चपेट में था और लोगों को उस वक्त मदद की जरूरत थी। शहर की जनता ने देखा है कि विधायक अरुण वोरा व महापौर धीरज बाकलीवाल के नेतृत्व मैं कांग्रेस के पार्षद और पदाधिकारियों ने राशन, दवाई, भोजन पहुंचाने की व्यवस्था की।

अलताफ ने कहा कि भाजपा नेताओं को याद रखना चाहिए कि उनकी राष्ट्रीय नेत्री के महापौर कार्यकाल में बाज़ार विभाग की 100 फाइलें गायब हुई थी। अमृत मिशन योजना 2 वर्ष पूर्व ही पूर्ण हो जाना था, लेकिन भाजपा की तत्कालीन महापौर के कार्यकाल में निष्क्रियता के कारण काम अधूरा रहा। 20 साल तक दुर्ग नगर निगम में भाजपा की सत्ता के दौरान एक भी कार्य ऐसा नहीं किया गया जिसे याद किया जा सके।

कांग्रेस की परिषद ने अमृत मिशन योजना को पूर्ण कराया। शहर के मुख्य मार्गों के अलावा वार्डों में सड़क डामरीकरण, सीमेंट सड़क सहित विकास के सभी कार्य कराए जा रहे हैं। भाजपा की परिषद के दौरान स्वच्छता अभियान की रैंकिंग 83 नंबर पर थी जिसे कांग्रेस की परिषद ने 17 वें नंबर पर लाने में सफलता हासिल की। पानी सप्लाई व्यवस्था सुधरी है।  लोगों की बुनियादी समस्याओं का समाधान हो रहा है।

दुर्ग का विकास भाजपा के लोगों को नजर नहीं आ रहा है। अपनी राजनीतिक जमीन खिसकती देखकर भाजपा नेता आंदोलन कर शहर की जनता को गुमराह करना चाहते हैं। दुर्ग शहर की जनता इनके बहकावे में नहीं आएगी। अलताफ ने कहा कि सांसद को केंद्र सरकार की गलत नीतियों का विरोध करना चाहिए। आज पूरे देश में महंगाई चरम सीमा पर है। पढ़े-लिखे युवकों के पास रोजगार नहीं है। मजदूर काम मांग रहे हैं। किसान अपना हक मांग रहे हैं। केंद्र सरकार चुप्पी साधे बैठी है। अगर भाजपा नेता आम जनता के सच्चे हितेषी हैं तो केंद्र सरकार के खिलाफ आंदोलन करें और आम जनता को राहत दिलाएं। केंद्र सरकार की नीतियों का खामियाजा पूरा देश भुगत रहा है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments