HomeNATIONALCHHATTISGARHरेलवे ट्रैक में जलभराव के कारण गाड़ियां हुईं प्रभावित, बिलासपुर-हावड़ा रेलमार्ग पर...

रेलवे ट्रैक में जलभराव के कारण गाड़ियां हुईं प्रभावित, बिलासपुर-हावड़ा रेलमार्ग पर थमी रफ्तार

रायपुर। दक्षिण पूर्व रेलवे के चक्रधरपुर रेल मंडल के अंतर्गत सोनुआ-लोटापहार स्टेशनों के मध्य रेल अवरोध के कारण गड़ियां प्रभावित हुई। शनिवार को बिलासपुर-हावड़ा रेलमार्ग पर ट्रेनें विलंब से चली। कुछ ट्रेनों को हावड़ा से विलंब से रवाना किया गया। इस मार्ग पर अभी रेल परिचालन सामान्य रूप से जारी है।
20 नवंबर को हावड़ा से 19.50 बजे छूटने वाली 12810 हावड़ा-छत्रपति शिवाजी टर्मिनस एक्सप्रेस को 4.30 घंटे विलंब से पुनर्निर्धारित समय पर 21 नवंबर को 00.20 बजे हावड़ा से रवाना किया गया। शनिवार को हावड़ा-बिलासपुर रेलखंड पर ट्रेनें देर से चलीं। इनमें 18477 पुरी-ऋषिकेश एक्सप्रेस झरसुगुड़ा में लगभग 5 घंटे विलंब, 12834 हावड़ा-अहमदाबाद एक्सप्रेस झरसुगुड़ा में लगभग 5 घंटे विलंब, 13288 राजेन्द्र नगर -दुर्ग एक्सप्रेस झरसुगुड़ा में लगभग 2 घंटे विलंब से, 12222 हावड़ा-पुणे, दुरंतो एक्सप्रेस झरसुगुड़ा में लगभग 2 घंटे विलंब से और 09206 हावड़ा-पोरबंदर एक्सप्रेस झरसुगुड़ा में लगभग 5 घंटे विलंब से पहुंचकर गंतव्य के लिए चलीं ।
दक्षिण मध्य रेलवे के विजयवाड़ा मंडल में पदगुपाडु-नेल्लोर के बीच रेल ट्रैक पर पानी के ओवरफ्लो होने के कारण गाड़ियों की रफ्तार थमी। सुरक्षा की दृष्टि से यहां पर दोनों दिशाओं में रेल परिचालन को स्थगित करना पड़ा। 20 नवंबर को कोरबा से रवाना होने वाली 22647 Korba – Kochuveli का परिचालन रद्द किया गया है। पदगुपाडु-नेल्लोर स्टेशनों के मध्य अतिवर्षा के कारण रेलवे ट्रैक में जलभराव हुआ। इस खंड में चलने वाली अनेको ट्रेनों को रद्द किया गया।
इसी कड़ी में 21 नवंबर को बिलासपुर से चलने वाली 12851 बिलासपुर चेन्नई एक्सप्रेस रद्द रहेगी।
20 नवंबर को बिलासपुर से रवाना की गई 17481 बिलासपुर तिरुपति एक्सप्रेस को रायपुर में ही शार्ट टर्मिनेट किया गया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments