HomeNATIONALCHHATTISGARHकोविड का खतरा टला नहीं, सभी छूटे हुए पात्र लोग लगवाएं कोविड...

कोविड का खतरा टला नहीं, सभी छूटे हुए पात्र लोग लगवाएं कोविड का टीका और बूस्टर डोज

वैभव चौधरी धमतरी। जिले में 23 से 30 जून तक कोविड 19 टीकाकरण का महाभियान चलाया जाएगा। इसके मद्देनजर कलेक्टर पी.एस.एल्मा ने ऐसे सभी छूटे हुए पात्र हितग्राही, जिनका टीकाकरण नहीं हुआ है, उन्हें इस महाभियान के दौरान टीका लगाने की अपील की है। उन्होंने अधिकारियों को अपने अधिनस्थ अमले को जल्द बूस्टर डोज लगाने प्रेरित करने कहा। साथ ही 60 साल या इससे अधिक उम्र वाले सभी पात्र हितग्राहियों को बूस्टर डोज लगाने का भी आग्रह किया है। दरअसल आज आहूत समय सीमा की बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डी.के.तुर्रे ने बताया कि जिले में कोविड बीमारी एक बार फिर दस्तक दे चुकी है और अब तक दो लोग संक्रमित पाए गए हैं। प्रदेश के अन्य जिलों में भी लोग कोविड से संक्रमित हो रहे हैं और कुछ जिलों में कोविड संक्रमण का दर दो प्रतिशत से ज्यादा दर्ज हुआ है, जो कि चिंतनीय है। इसके मद्देनजर सभी पात्र हितग्राहियों का टीकाकरण कराना जरूरी है, जिससे कि बीमारी की चैन को तोड़ा जा सके तथा कोविड से लड़ने के लिए इम्युनिटी बढ़ाई जा सके। इसलिए आगामी 23 से 30 जून तक महाभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले में अब तक 12 लाख 55 हजार 924 कोविड टीकाकरण हो चुका है। इनमें पहला डोज छः लाख 78 हजार 739 (102 प्रतिशत), दूसरा डोज पांच लाख 63 हजार 517 (78 प्रतिशत) और 13 हजार 668 बूस्टर डोज शामिल है। बूस्टर डोज अभी भी 76 हजार 791 लोगो को लगना बचा है। इसलिए यह सब कवायद की जा रही है।
बैठक में कलेक्टर ने दिव्यांगजनों के लिए लगाए जा रहे आंकलन और प्रमाणीकरण शिविर की जानकारी ली। उप संचालक समाज कल्याण ने बताया कि अब तक 16 शिविर आयोजित कर हितग्राहियों से आवेदन लिए गए हैं । कलेक्टर ने शिविर में अब तक मिले आवेदनों की एकजाई सूची तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दिए, जिससे कि आगे की कार्रवाई की जा सके। ज्ञात हो कि 22 जून को आखिरी प्रमाणीकरण शिविर धमतरी के कण्डेल में आयोजित किया जाना है। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
बैठक में  खरीफ के लिए बीज भंडारण और वितरण की प्रगति की जानकारी देते हुए उप संचालक कृषि ने बताया कि 12 हजार 29 क्विंटल धान बीज का समितियों में भंडारण कर  सात हजार 374 क्विंटल, याने कि 61 प्रतिशत बीज का वितरण किसानों को कर लिया गया है। साथ ही उर्वरक भण्डारण एवं वितरण के बारे में बताया कि जिले में अब तक 19 हजार 453 मीट्रिक टन उर्वरक का भण्डारण कर 14 हजार 496 मीट्रिक टन, याने 75 प्रतिशत उर्वरक किसानों को वितरित किया गया है। कलेक्टर ने सुनिश्चित करने कहा कि किसानों को खाद बीज की कमी ना हो। इस दौरा। विभिन्न विभागों में समय सीमा के लंबित प्रकरणों की भी कलेक्टर एल्मा ने समीक्षा करते हुए इन्हें जल्द से जल्द गुणवत्तापूर्वक निराकृत करने के निर्देश दिए। बैठक में  मुख्य कार्यपालन अधिकारी, ज़िला पंचायत प्रियंका महोबिया, एडीएम ऋषिकेश तिवारी, ज़िला स्तरीय अधिकारी तथा वीसी के जरिए ब्लॉक स्तरीय अधिकारी जुड़े रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments