HomeNATIONALCHHATTISGARHबालिका आश्रम पहुंची कलेक्टर छात्रा की कविता सुन दी शाबाशी

बालिका आश्रम पहुंची कलेक्टर छात्रा की कविता सुन दी शाबाशी

बीएन यादव कोरबा। बालिका आश्रम में चौथी कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा कुमारी जयेश्वरी ने कलेक्टर को स्वयं ही आगे आकर कविता सुनाने की इच्छा जाहिर की। कलेक्टर साहू को जयेश्वरी ने ’’हरी डाल पर परी’’ कविता सुनाई। बिना रूके जयेश्वरी की सुनाई कविता से कलेक्टर खासी प्रभावित हुईं और उन्होंने शाबाशी देते हुए जयेश्वरी का हौसला बढ़ाया। कलेक्टर ने सभी बच्चों को पढ़-लिख कर परी की तरह ही अच्छा इंसान बनने और हमेशा दूसरे के लिए अच्छे काम करने की समझाईश दी। उन्होंने सभी छोटे बच्चों को मन लगाकर पढ़ने के साथ-साथ खेल कूद में भी आगे बढ़ने को प्रोत्साहित किया।
ग्यारहवीं की छात्रा ने पूछा, कलेक्टर कैसे बनते हैं: श्रीमती साहू ने दिया मार्गदर्शन, छात्रा ने रिटर्न गिफ्ट दिया, हाथों से बनाई हुई कलेक्टर की स्कैच और शुभकामना कार्ड दिए -.. कलेक्टर साहू के प्रयास आवासीय विद्यालय निरीक्षण के दौरान कक्षा ग्यारहवीं की छात्रा शगुफ्ता फातिमा ने कलेक्टर बनने के बारे में पूछा। छात्रा की जिज्ञासा पर श्रीमती साहू ने सभी विद्यार्थियों को सरल और स्पष्ट तरीके से कलेक्टर बनने की प्रक्रिया को बताया। कलेक्टर ने विद्यार्थियों को मार्गदर्शन दिया और मन लगाकर पढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया तो विद्यार्थियों ने भी रिटर्न गिफ्ट देकर कलेक्टर साहू का आभार माना। रिटर्न गिफ्ट के रूप में कक्षा ग्यारहवीं की छात्रा कुमारी आंचल बघेल ने कलेक्टर को अपने हाथों से बनाई हुई कलेक्टर साहू की स्कैच भेंट किया। अन्य विद्यार्थियों ने भी अपने हाथों से बनाए हुए आकर्षक और कलात्मक शुभकामना कार्ड कलेक्टर को भेंट किए। कलेक्टर साहू ने विद्यार्थियों को मार्गदर्शन देते हुए कहा कि कलेक्टर बनने के लिए अच्छे से पढ़ाई करना होता है। मेहनत और लगन से लगातार पढ़ना पढ़ता है। उन्होंने ने बताया कि कलेक्टर बनने के लिए यूपीएससी में तीन चरण के परीक्षा को पास करना होता है। सबसे पहले प्रारंभिक परीक्षा, उसके बाद मुख्य परीक्षा और मुख्य परीक्षा में पास होने के उपरांत इंटरव्यू देना पड़ता है। अंतिम परिणाम में सफल होने के पश्चात ही आईएएस के रूप में चयन होता है। कलेक्टर साहू ने विद्यार्थियों को कलेक्टर बनने के लिए अभी से अच्छे से पढ़ाई करने और लक्ष्य निर्धारित करके कड़ी मेहनत करने की सलाह दी।
विद्यार्थियों द्वारा आयोजित संक्षिप्त कार्यक्रम में कलेक्टर ने विद्यार्थियों की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि प्रयास आवासीय विद्यालय में पढ़ने का सुनहरा अवसर आप लोग को मिल रहा है। प्रयास स्कूल में पढ़ने के इस मौके को लक्ष्य बनाकर और छोटे-छोटे टारगेट तय कर अच्छे से पढ़ाई करें। प्रयास स्कूल में पढ़ने-लिखने, रहने-खाने, सुरक्षा-स्वास्थ्य आदि सभी सुविधाएं शासन द्वारा प्रदान की जा रही है। इंजीनियरिंग और मेडिकल की प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए भी विशेष तौर पर तैयारी करवायी जा रही है। उन्होंने विद्यार्थियों को कहा कि प्रयास स्कूल में पढ़ने के मिले मौके को सदुपयोग करके नियमित पढ़ाई करें। परीक्षा की तैयारी के लिए पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करते रहें। इस मौके पर कलेक्टर ने कक्षा बारहवीं के पीईटी, पीएमटी की तैयारी कर रहे विद्यार्थियों को निःशुल्क स्टडी मटेरियल भी वितरित किया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments