HomeNATIONALCHHATTISGARHसद्भावना क्रिकेट प्रतियोगिता का हुआ आयोजन, पीजी कॉलेज जनभागीदारी टीम के विजेता

सद्भावना क्रिकेट प्रतियोगिता का हुआ आयोजन, पीजी कॉलेज जनभागीदारी टीम के विजेता

दीपक ठाकुर कवर्धा। शुक्रवार 18 फरवरी के दिन शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय पीजी कॉलेज कवर्धा के तत्वाधान में एक दिवसीय सद्भावना क्रिकेट प्रतियोगिता का आयोजन पीजी कॉलेज ग्राउंड कवर्धा में संपन्न हुआ प्रतियोगिता के समापन समारोह में मुख्य अतिथि के रुप में कबीरधाम कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा विशिष्ट अतिथि पीजी कॉलेज प्राचार्य डॉ बीएस चौहान डॉ. रिचा मिश्रा विशिष्ट प्रध्यापक डॉ दीप्ति जांगड़े ,डॉ एस के मेहर,डॉ मुकेश कामले ,एन के कुल मित्र मंजू देवी कोचे ,शिव कुमार कुर्रे,भानुप्रताप सिंह,आकांशा वर्मा ,रवि गढेवाल उपस्थित रहे। मंच का संचालन और मैच में कॉमेंट्री नितेश छाबड़ा और केपी माहुले क्रीड़ा अधिकारी के द्वारा किया गया। इस एक दिवसीय सद्भावना क्रिकेट प्रतियोगिता में 4 टीमों ने हिस्सा लिया हिस्सा लेने वाली टीमों में पीजी कॉलेज प्रोफेसर इलेवन, कर्मचारी इलेवन पीजी कॉलेज, कन्या महाविद्यालय प्रोफेसर इलेवन ,जनभागीदारी इलेवन ने हिस्सा लिया वही इस सद्भावना क्रिकेट प्रतियोगिता का फाइनल मैच जनभागीदारी इलेवन और कर्मचारी इलेवन के बीच 10-10 ओवर का मैच खेला गया। जिसमें जनभागीदारी इलेवन ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 10 ओवर में 108 रन का स्कोर खड़ा किया और लक्ष्य का पीछा करते हैं कर्मचारी इलेवन की टीम 10 ओवर में आउट होकर सिर्फ 67 रन ही बना पायी इसके साथ ही इस मैच की विजेता जनभागीदारी इलेवन की टीम रही। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने विजेता टीम को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया। उप विजेता रही कर्मचारी इलेवन और तृतीय स्थान पर कन्या महाविद्यालय की टीम और चतुर्थ स्थान पर पीजी कॉलेज प्रोफेसर इलेवन की टीम रही वही सभी टीमों को कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने शील्ड और मेडल देकर सम्मानित किया पूरे मैच के दौरान मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे हेमंत ठाकुर को कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने मेडल से सम्मानित किया। कार्यक्रम के बाद सभी खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने कहा कि मेरा बचपन से ही पसंदीदा गेम क्रिकेट रहा है और मैंने अपने जमाने में बेहद क्रिकेट खेला है अब प्रशासनिक सेवा में होने के नाते क्रिकेट खेलने का समय बहुत कम ही मिल पाता है और कभी-कभी कहीं क्रिकेट पर जाकर आयोजन होता है उसका लुप्त लेने के लिए मैं अपना समय जरूर निकालता हूं इसके साथ ही कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने कॉलेज के प्रोफेसरों को गाइडलाइन दिया कि बच्चों को कोर्स से हटकर उनको एस्ट्रा जानकारी भी दिया जाए क्योंकि एग्जाम में अच्छे नंबर लाना मायने नहीं रखता जितना मायने वह आने वाले समय के लिए अपनी तैयारी करें। कार्यक्रम के बाद प्रोफेसर मुकेश कामले समापन समारोह में पहुंचे मुख्य अतिथि और सभी खिलाड़ियों का आभार व्यक्त किया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments