HomeNATIONALCHHATTISGARHअब छत्तीसगढ़ में जारी होंगे क्यूआर कोड युक्त ड्राइविंग लाइसेंस,स्कैन करने पर...

अब छत्तीसगढ़ में जारी होंगे क्यूआर कोड युक्त ड्राइविंग लाइसेंस,स्कैन करने पर मोबाइल स्क्रीन पर शो होगी पूरी डिटेल्स

रायपुर। छत्तीसगढ़ में अब जारी होने वाले समस्त “ड्राइविंग लाइसेंस” एवं “पंजीयन प्रमाण पत्र” पॉलीकार्बोनेट आधारित कार्ड पर और क्यूआर कोड युक्त होंगे। भारत सरकार के भूतल एवं परिवहन विभाग (MoRTH) की ओर से वर्ष 2019 में जारी अध्यादेश के अनुपालन में एकीकृत ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र जारी किया जाना है। इसके अंतर्गत परिवहन विभाग छत्तीसगढ़ ने हाल ही में निविदा प्रक्रिया संपन्न की है। यह योजना 17 मई 2022 से प्रादेशिक स्तर पर प्रारंभ की गई है। ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र के प्रिंटिंग का कार्य “केंद्रीकृत कार्ड प्रिंटिंग एवं डिस्पैच यूनिट” पंडरी रायपुर में किया जाएगा। छत्तीसगढ़ सरकार की संकल्पित योजना के अंतर्गत भारतीय डाक के माध्यम से आवदेकों के घर पर प्रेषित किए जाएंगे।
इस नवीन व्यवस्था के अंतर्गत “क्यूआर कोड” वाले पॉलीकार्बोनेट ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र जारी किए जाएंगे। पॉलीकार्बोनेट कार्ड उच्च गुणवत्ता एवं लंबे समय तक चलने वाले होते हैं। जिस पर लेजर के माध्यम से प्रिंटिंग की जाती है। यह कार्ड सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय नई दिल्ली (MoRTH) की ओर से तय मानकों को पूर्ण करते हुए जारी किए जाएंगे।
नए प्रारूप के “क्यूआर कोड” वाले पॉलीकार्बोनेट ड्राइविंग लाइसेंस एवं पंजीयन प्रमाण पत्र के प्रिंटिंग का कार्य “एमसीटी कार्ड्स एंड टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड” की ओर से कार्य किया जाएगा। यह कंपनी मनिपाल कर्नाटका की आईटी कंपनी है जो की इस क्षेत्र में अग्रणी है एवं इसी प्रकार के कार्य अन्य राज्यों में करती आ रही है।
परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर की ओर से ‘तुंहर सरकार तुंहर द्वार‘ के सुव्यवस्थित संचालन के लिए निरंतर निगरानी रखी जा रही है। परिवहन विभाग की ओर से संचालित ‘तुंहर सरकार तुंहर द्वार‘ योजना लोगों की सुविधा के लिए अतिमहत्वपुर्ण योजना है। परिवहन विभाग से संबंधित जनसुविधाएं इतनी सहजता से घर बैठे मिलने से लोगों को अब बार-बार परिवहन विभाग के चक्कर लगाने की आवश्कयता नहीं पड़ती। इसके चलते आवेदकों के समय और धन की बचत होगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments