HomeNATIONALCHHATTISGARHछात्रों के आवेदनों का परीक्षण करने में लापरवाही,आरटीई के 33 नोडल प्राचार्यों...

छात्रों के आवेदनों का परीक्षण करने में लापरवाही,आरटीई के 33 नोडल प्राचार्यों को नोटिस

रायपुर/राजनांदगांव। शिक्षा के अधिकार के तहत निजी विद्यालयों में निशुल्क अध्ययन के लिए पालक व विद्यार्थियों की ओर से ऑनलाइन वेबपोर्टल के माध्यम से आवेदन प्रस्तुत किए गए थे। प्राप्त आवेदनों का परीक्षण नोडल प्राचार्यों की ओर से 31 मई तक पूर्ण किया जाना था। 33 नोडल प्राचार्य ने अपने नोडल आईडी में प्रदर्शित हो रहे आवेदनों का किसी प्रकार से स्टेटस परिवर्तन नहीं किया। उनके आईडी में प्राप्त आवेदन एप्लाइड स्थिति में हैं। इसके कारण जिले की लॉटरी प्रक्रिया बाधित हुई है। जिले के सभी नोडल आईडी में प्राप्त आवेदनों का स्टेटस जब तक एप्लाइड स्थिति शून्य नहीं हो जाता तब तक लॉटरी का कार्य संभव नहीं होगा। एप्लाइड आवेदनों का स्टेट्स परिवर्तन जैसे इनकम्पलीट, डुप्लीकेट, रिजेक्टेड एवं एप्रुव किया जाना था, जो कि समय-सीमा के भीतर नहीं किए जाने के कारण शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला जंगलपुर, चिल्हाटी, उदयपुर, सण्डी, कन्या मोहला, गेंदाटोला, तुमड़ीबोड़, हरदी, पनेका, गोटाटोला, बोरतलाव, मेढ़ा, किसान अर्जुनी, दनगढ़, बालक खैरागढ़, चारभांठा, भैंसातरा, बालक मानपुर, बालक मोहला, ठाकुरटोला छुईखदान, झुरानदी छुईखदान, कुमर्दा, भण्डापुर खैरागढ़, हाईस्कूल दीलिपपुर खैरागढ़, गाडाघाट, पूर्व माध्यमिक शाला नया ढ़ाबा, स्टेशन मुढ़ीपार, अतरिया बाजार, मुरमुंदा डोंगरगढ़, ब. नवागांव राजनांदगांव, आमगांव, पलांदूर डोंगरगढ़ एवं शासकीय हाई स्कूल देवरी खैरागढ़ के प्राचार्यों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments