HomeNATIONALCHHATTISGARHपंडित रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी और इंडियन कौंसिल ऑफ़ एग्रीकल्चरल रिसर्च-नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़...

पंडित रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी और इंडियन कौंसिल ऑफ़ एग्रीकल्चरल रिसर्च-नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ बायोटिक स्ट्रेस मैनेजमेंट के बीच हुआ एमओयू

रायपुर। इंडियन कौंसिल ऑफ़ एग्रीकल्चरल रिसर्च- नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ बायोटिक स्ट्रेस मैनेजमेंट रायपुर और पंडित रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी रायपुर के बीच 1 जून को एमओयू में हस्ताक्षर हुआ। इस दौरान नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ बायोटिक स्ट्रेस मैनेजमेंट के डायरेक्टर डॉ. पीके घोष एवं पंडित रविशंकर शुक्ल यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर केशरी लाल वर्मा के साथ रजिस्ट्रार डॉ. एसके पटेल,डॉ. पी. कौशल, डॉ. एसके जैन, डॉ. एसके जाधव और डॉ. केशव कांत साहू उपस्थित थे। दोनों संस्थानों के बीच संबद्ध गतिविधियों पर चर्चा की गई । उन्होंने दिशानिर्देशों में निहित प्रावधानों के अनुसार अत्याधुनिक क्षेत्रों में गुणवत्तापूर्ण स्नातकोत्तर और डॉक्टरेट अनुसंधान के छात्रों के प्रशिक्षण को बढ़ावा देने के लिए दीर्घकालिक सहयोग करने का निर्णय लिया। इस एमओयू का मुख्य उद्देश्य अनुसंधान और शैक्षिक कार्यक्रमों पर सूचनाओं का आदान-प्रदान करना, पारस्परिक हित के विषयों पर संयुक्त रूप से अल्पकालिक सतत शिक्षा कार्यक्रम आयोजित करना और इसमें भाग लेने के लिए एक दूसरे के संकाय को आमंत्रित करना, संयुक्त रूप से संगोष्ठियों, सम्मेलनों या कार्यशालाओं का आयोजन करना, वैज्ञानिक सामग्रियों, प्रकाशनों और सूचनाओं के आदान-प्रदान को प्रोत्साहित करना है। सामग्री का वास्तविक आदान-प्रदान विशुद्ध रूप से स्वैच्छिक आधार पर और आवश्यक संस्थागत सामग्री हस्तांतरण समझौतों के अधीन किया जाएगा। उपर्युक्त समझौते दोनों पक्षों की ओर किए गए और यह समझौता ज्ञापन आने वाले तीन वर्षों के लिए लागू है। पांच साल तक बढ़ाया जा सकता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments