HomeNATIONALCHHATTISGARHमहात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनांतर्गत निर्माण कार्यों पर हुई समीक्षा...

महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनांतर्गत निर्माण कार्यों पर हुई समीक्षा बैठक

वैभव चौधरी धमतरी।जिला पंचायत सभाकक्ष में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनांतर्गत निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक में प्रियंका ऋषि महोबिया मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने योजनांतर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 के 862 एवं 2020-21 के 4118 अपूर्ण कार्य को बारिश के पूर्व पूर्ण कराने निर्देशित किया गया। इसी तरह वित्तीय वर्ष 2020-21 के स्वीकृत अप्रारंभ कार्य को निरस्त करने तथा मनरेगा अंतर्गत निर्माण कार्यों में प्रति दिवस 50 हजार श्रमिक नियोजित करने के निर्देश दिये गये। जिले के 335 ग्राम पंचायतों के 359 ग्रामों में गौठान स्वीकृत किया गया है जिसमें 331 कार्य पूर्ण, 27 प्रगतिरत एवं 02 अप्रारंभ है। प्रगतिरत गौठानों को पूर्ण कराते हुए गोबर खरीदी करने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने दिये। धमतरी विकासखंड के ग्राम पंचायत शंकरदाह एवं कुरूद विकासखंड के ग्राम पंचायत दहदहा के अप्रारंभ गौठान को प्रारंभ करते हुए पूर्ण कराई जावें। चारागाह के कुल 230 कार्य स्वीकृत हैं 156 पूर्ण, 59 प्रगतिरत है जिनमें धमतरी विकासखंड के ग्राम पंचायत बोड़रा (पुरी), कुर्रा, मड़ईभाठा, देमार, नवागांव(क), पीपरछेड़ी(गा), रांवा, कुरूद विकासखंड के ग्राम पंचायत चारभाठा, चरोटा, देवरी, जोरातराई (न), सेमरा(सि), कोण्डापार, चरमुड़िया, मगरलोड विकासखंड के ग्राम पंचायत भरदा इस तरह 15 ग्राम पंचायतों में चारागाह निर्माण कार्य अप्रारंभ हैं तत्काल कार्य प्रारंभ करते हुए पूर्ण कराये जाने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने दिये। समूह की महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने के लिए सामुदायिक बाड़ी के कार्यों में नियोजित की जावें।
जिले में फेस 01 में एवं 02 में कुल 44 नरवा कार्य चिन्हांकित किया गया था, जिसमें से 36 नरवा में 510 कार्य (फेस 01- 152, फेस 02-358) स्वीकृत किया गया है जिसमें से 334 पूर्ण हैं फेस 01-152 फेस 02-182 है। शेष अप्रारंभ कार्य को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने पूर्ण करने निर्देशित किया। पाथ उपचार एवं रिचार्ज पिट के स्वीकृत कार्य को वर्षाकाल के पूर्व पूर्ण करा ली जावें। डाइक निर्माण एवं तालाब गहरीकरण के कार्यों में अधिकाधिक मनरेगा श्रमिकों को नियोजित किये जाने के निर्देश दिये गये। वित्तीय वर्ष 2021-22 में कुल 65 आंगनबाड़ी भवन स्वीकृत किया गया है जिसमें 47 प्रगतिरत हैं। वर्तमान में धमतरी विकासखंड के ग्राम पंचायत कुर्रा, मगरलोड विकासखंड के ग्राम पंचायत भरदा, डुमरपाली, अरौद, नवागांव (बु) में आंगनबाड़ी भवन निर्माण कार्य अप्रारंभ है जिसे तत्काल पूर्ण करने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने दिये। जिस ग्राम पंचायत में भूमि अतिक्रमित हैं और आंगनबाड़ी भवन निर्माण में दिक्कतें आ रही हैं ऐसी स्थिति में अनुविभागीय अधिकारी (रा.) के माध्यम से जमीन को सुरक्षित कराये जाने निर्देशित किया गया। सामुदायिक शौचालय निर्माण के 251 कार्यों में से 148 पूर्ण, शेष कार्य समयावधि में पूर्ण कराये जाने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने दिये। ठोस अपशिष्ट प्रबंधन हेतु शेड निर्माण के 212 कार्य स्वीकृत हैं, 30 कार्य पूर्ण, 94 प्रगतिरत एवं 88 अप्रारंभ हैं उक्त कार्य को तत्काल प्रारंभ करने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने दिये।
आगे उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि समूह की महिलाओं की आजीविका संवर्धन हेतु महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना, जिला खनिज न्यास निधि एवं रूर्बन मिशन अंतर्गत 219 कार्य स्वीकृत हैं, 72 पूर्ण, 73 प्रगतिरत, 74 अप्रारंभ हैं जिनमें धमतरी विकासखंड अंतर्गत जुनवानी, हंकारा, कुरमातराई, पुरी, मुजगहन, चिखली, खम्हरिया, विकासखंड कुरूद अंतर्गत बंजारी, हंलचपुर, सिलघट, कोटगांव, कोकड़ी (खैरा), कातलबोड़, रामपुर, कठोली, मुरा, सिरसिदा, संकरी, नवागांव (उ), मगरलोड विकासखंड अंतर्गत परेवाडीह, बुड़ेनी, मोतिमपुर, बेलौदी, भरदा, भोथा, अरौद, मोंहरेंगा, मड़ेली, भेण्ड्री, नगरी विकासखंड अंतर्गत बांधा, उमरगांव, मुनईकेरा में मुर्गी शेड निर्माण, गौठान शेड निर्माण, गौठान में वर्किंग शेड निर्माण, मशरूम शेड निर्माण के कार्य अप्रारंभ हैं, तत्काल प्रारंभ करते हुए समयावधि में पूर्ण करायी जावें। राष्ट्रीय पंचायतीराज दिवस के अवसर पर मिशन अमृत सरोवर का शुभारंभ किया गया है। इसके तहत जिले में 75 कार्य स्वीकृत किये गये हैं। जिनमें 52 प्रगतिरत हैं। धमतरी विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत बोड़रा (सा), सेहराबडरी, बागतराई, कसावाही, अकलाडोंगरी, कुरूद विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत भैंसमुंडी, कोण्डापार, नवागांव (उ), पचपेड़ी, तर्रागोंदी, मगरलोड विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत भोथीडीह, रेंगाडीह, बेलोरा, मेघा, नगरी विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत मुनईकेरा, गुहाननाला, कल्लेमेटा, बेलरगांव, कांटाकुर्रीडीह, घोटगांव, बेलरबाहरा, ठेनही, हरदीभाठा में अमृत सरोवर के कार्य अप्रारंभ है जिसे तत्काल प्रारंभ किये जाने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने दिये।
महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 में सड़क किनारे, नहर किनारे वृक्षारोपण हेतु 14000, ब्लॉक प्लांटेशन हेतु 146000 एवं नर्सरी हेतु 300000 पौधें उत्पादन के लिए लक्ष्य दिया गया था जिसके विरूद्ध सी.एल.एफ. देमार को 40000 पौधे एवं सी.एल.एफ. चर्रा को 50000 पौधे तैयारी हेतु स्वीकृति दिया गया है। इसी प्रकार सी.एल.एफ को छोड़कर सड़क किनारे, नहर किनारे वृक्षारोपण हेतु 1000, ब्लॉक प्लांटेशन हेतु 10000 एवं नर्सरी हेतु 150000 पौधें उत्पादन का लक्ष्य दिया गया है जिसके विरूद्ध वन विभाग को 2.40 लाख पौधे एवं उद्यानिकी विभाग को 1.10 लाख पौधे उत्पादन हेतु स्वीकृति दिया गया है। उक्त कार्य को स्वसहायता समूह की महिलाओं के माध्यम से कराये जाने के निर्देश मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने दिये।
महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना की समीक्षा बैठक में मुख्य रूप से कार्यपालन अभियंता ग्रामीण यांत्रिकी सेवा संभाग धमतरी, सहायक संचालक उद्यानिकी विभाग, सतीश सिंह नागवंशी सहायक परियोजना अधिकारी, सर्व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उपसंभाग कार्यक्रम अधिकारी(मनरेगा) जनपद पंचायत एवं विभागीय अधिकारी उपस्थिति थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments