HomeNATIONALCHHATTISGARHकवर्धा : जिला अस्पताल को मिला नेशनल क्वालिटी असोरेन्स स्टैंडर्ड का प्रमाणपत्र

कवर्धा : जिला अस्पताल को मिला नेशनल क्वालिटी असोरेन्स स्टैंडर्ड का प्रमाणपत्र

दीपक ठाकुर कवर्धा। जिला अस्पताल को उत्कृष्ठ स्वास्थ्य सेवाओं व मरीजों के बेहतर इलाज के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन मानक (एन क्यू ए एस- नेशनल क्वालिटी असोरेन्स स्टैंटर्ड) प्रमाण पत्र प्रदान किया गया है। भारत सरकार द्वारा जिला अस्पताल को यह प्रमाण पत्र 12 विभागों के बेहतर कार्य प्रदर्शन के लिए प्रदत्त किया गया है।
उल्लेखनीय है कि शासन की ओर से मंत्री मोहम्मद अकबर द्वारा जिला अस्पताल के लिए अनवरत अनेक प्रयास किये गए। जिसमें सबसे बड़ा योगदान लम्बे समय से रिक्त विशेषज्ञ चिकित्सकों की भर्तियां, मेडिकल ऑफीसर्स की भर्तियां व अन्य स्टाफ समेत संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित कराया जाना शामिल है। कोविड काल के पूर्व ही किये गए उक्त प्रयासों का परिणाम रहा कि कोविड जैसी महामारी आने पर कबीरधाम जिला स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करके कोविड के प्रकोप से सुरक्षित बाहर आ पाया। इसके बाद लगातार जिला अस्पताल में तमाम स्वास्थ्य सेवाओं में उत्तरोत्तर वृद्धि शासन व जिला प्रशासन स्तर पर जारी रखी गई। गत 12 मई से लगातार तीन दिनों तक भारत सरकार के तीन अलग-अलग राज्यों से आये वरिष्ठ विशेषज्ञ चिकित्सकों की टीम ने जिला अस्पताल में कार्यों के मानकों को बारीकी से परखा। टीम द्वारा एक-एक विभाग के कार्यों, दस्तावेजों के रख-रखाव, प्रॉपर रिपोर्टिंग, मरीजों को दी जा रही सेवाओं, सफाई व्यवस्थाओं आदि समेत वार्ड में जाकर मरीजों से भी बातचीत की थी व मानकों को परखा। मानकों में खरा उतरने पर तमाम औपचारिका पूरी करने के बाद अस्पताल को यह प्रमाण पत्र प्रदान किया।

जिले की जनता को मिलेगा लाभ

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मुखर्जी ने बताया कि यह प्रमाण पत्र मिलने से जिला अस्पताल को शासन की ओर से अनुदान राशि दी जाएगी , जिससे संसाधनों को बढाने में सहयोग मिलेगा और इसका सीधा लाभ जिले की जनता को मिलेगा। उन्होंने बताया कि आगे भी अनेक इसी तरह के प्रमाण पत्रों के लिए जिला अस्पताल का नामांकन करने की योजना है , जिससे यह क्रम अनवरत जारी रखा जा सके।

क्या है एन क्यू ए एस प्रमाणपत्र

एनक्यूएएस प्रमाण पत्र इस बात का प्रमाण है कि अस्पताल में शासन द्वारा निर्धारित सभी मानकों को पूरा करते हुए मरीजों का इलाज किया जा रहा है। बता दें कि सरकारी अस्पतालों में बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करने के लिए केंद्र सरकार की ओर से एन क्यू ए एस की टीम गठित की जाती है। टीम विभिन्न विभागों एवं शासन द्वारा निर्धारित मानकों का निरीक्षण करने के बाद अंक प्रदान करती है।

जिला अस्पताल के ओपीडी,लेबर रूम,मेटरनिटी वार्ड, पीडियाट्रिक वार्ड, एसएनसीयू,एनआरसी, ऑपरेशन थिएटर, पी पी यूनिट,आईपीडी,ब्लड बैंक, लैब, सामान्य प्रशासन विभाग को एन क्यू ए एस के तहत गुणवत्ता प्रमाण पत्र मिला है। जिला अस्पताल के 12 विभागों को मानकों के आधार पर टीम ने 100 में से 95 अंक प्रदान किया है।

मंत्रियों ने दी बधाई शुभकामनाएं

जिला अस्पताल को राष्ट्रीय स्तर का प्रमाणपत्र मिलने पर कैबिनेट मंत्री मोहम्मद अकबर व स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने कबीरधाम कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा , सीएमएचओ डॉ सुजॉय मुखर्जी , सिविल सर्जन डॉ पी सी प्रभाकर सहित पूरी टीम को बधाई व शुभकामनाएं दी है।

मंत्री अकबर ने जीवन दीप समिति के सदस्यों को भी जिला अस्पताल में बेहतर कार्यों को बढ़ावा देने के लिए बधाई दी व विशेष रूप से राजेश माखीजानी के प्रयासों व मेहनत के लिए उन्होंने प्रसन्नता जाहिर की है। उन्होंने जिला अस्पताल समेत पूरे स्वास्थ्य विभाग के स्टाफ को बधाई देते हुए आगे भी बेहतर कार्य जारी रखने की उम्मीद जताई है।
उक्त हेतु स्वास्थ्य संचालक नीरज बनसोड, एम डी एन एच एम प्रियंका शुक्ला, राज्य महामारी नियंत्रण कार्यक्रम के संचालक सुभाष मिश्रा, जिला कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा सहित एस पी डॉ लाल उमेद सिंह, जिला पंचायत सी ई ओ संदीप अग्रवाल ने भी स्वास्थ्य विभाग की उपलब्धि की सराहना करते हुए टीम को बेहतर कार्यों के लिए प्रोत्साहित करते हुए शुभकामनाएं दी है।

सफाई कर्मियों को पहनाया फूलों की माला, टीम वर्क को बरकरार रखने की सलाह केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से उक्त प्रमाणपत्र के मिलते ही सी एम एच ओ डॉ मुखर्जी व सिविल सर्जन डॉ प्रभाकर व जीवन दीप समिति के वरिष्ठ सदस्य राजेश माखीजानी ने जिला अस्पताल के पूरे स्टाफ को मोटिवेट किया। उन्होंने सफाई कर्मियों को फूलों की माला पहनाकर सम्मान किया और कहा कि इन्ही की कड़ी मेहनत के कारण रोज की भीड़ के बावजूद अस्पताल में साफ-सफाई रख पाना सम्भव हुआ है। इसके अलावा सभी विभागों के अधिकारियों -कर्मचारियों को टीम वर्क का परिणाम समझाते हुए आगे अनेक प्रतियोगिताओं के लिए तैयार रहने व टीम वर्क को यथावत रखने की सलाह देते हुए उत्कृष्ट कार्यों के लिए उम्मीद जताई गई। उक्त अवसर पर आर एम ओ डॉ पुरषोत्तम राजपूत, शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ सलिल मिश्रा, डीपीएम सृष्टि शर्मा, हॉस्पिटल कंसल्टेंट रीना सलूजा,अकाउंटेंट दीपक ठाकुर आदि के कार्यों की भी सराहना की गई।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments