HomeNATIONALCHHATTISGARHस्वास्थ्य के नाम पर अस्पतालों में लूट और बंदर बांट : आप

स्वास्थ्य के नाम पर अस्पतालों में लूट और बंदर बांट : आप

रायपुर। आम आदमी पार्टी छत्तीसगढ़ के प्रदेश सह संयोजक सूरज उपाध्याय ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में स्वास्थ्य व्यवस्थाएं बदहाल हैं। मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री को जनता से कोई लेना देना नहीं है। दोनों ही एक कुर्सी बचाने और पाने में लगे है।

सूरज ने कहा कि प्रदेश में पीलिया से मौतें हो रहीं हैं। स्वास्थ्य और निगम के अधिकारी को सुध नहीं है। 20 से 30 फीसदी कमीशन लेकर सरकारी अस्पताल में बीमार को प्राइवेट अस्पताल में रेफर करने का गोरख धंधा जोरशोर से पूरे प्रदेश में चल रहा है। राज्य में निजी अस्पतालों का इलाज बहुत महंगा है। निजी अस्पतालों में विभिन्न जांच के नाम पर लूटा जा रहा है। अनाब शनाब रेट लिए जा रहे है और साधारण बीमारी को भी बड़ी बीमारी बताकर लूट पाट चल रही है।

प्रदेश के अधिकांश जिलों में सरकारी और निजी अस्पतालं में भर्ती मरीजों को दलालों द्वारा रायपुर के महंगे निजी अस्पतालों में रेफर करने का खेल चल रहा है। इसके एवज में उन्हें 20 से 30 फीसदी कमीशन मिलता हैं। निजी अस्पतालों में बेड से लेकर दवाई और अन्य ट्रीटमेंट के लिए अलग-अलग संस्थानों में सर्विस प्रदान करने के नाम पर मरीजों से मोटी रकम वसूली जाती है। हालात इतने गंभीर हैं कि अगर इन बड़े अस्पतालों में किसी की मौत हो जाती है तो बिना भुगतान के शव तक उनके परिजनों को नहीं दिया जाता है।बिल भरने में आम आदमी का खेत और जेवर तक बेचने पड़ जाते है।

जनता राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं से बेहाल हो चुकी है? इसके बाद भी
स्वास्थ्य विभाग की ओर से कोई कार्यवाही को लकर ध्यान नहीं दिया
जा रहा है। प्रदेश में अच्छी स्वास्थ्य सुविधाओं का ढिंढोरा पीटने वाली भूपेश सरकार इस सब से अनजान कैसे हो सकती है। क्या ये माना जाये की प्रदेश के मुख्यमंत्री इन कमिशन खोरो का साथ दे रहे हैं? मुख्यमंत्री जी जनता सब देख रही है जो अगले चुनावों में आपको जवाब देगी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments