HomeNATIONALCHHATTISGARHVideo: राजिम मेले में 113 जोड़ें बंधे विवाह बंधन में, मंत्रियों ने...

Video: राजिम मेले में 113 जोड़ें बंधे विवाह बंधन में, मंत्रियों ने दिया आशीर्वाद

फारुख मेमन गरियाबंद। राजिम माघी पुन्नी मेला में आज अलग ही नजरा देखने को मिल रहा था। एक तरफ दुल्हनों की कतार तो दूसरी तरफ 113 दूल्हों की बारात देखने को मिली। मेले का नजारा विवाह मय नजर आया। लोग मड़ाई मेला की जगह वैवाहिक कार्यक्रम को देखने के लिए उमड पड़े थे

दरअसल आज मेले में शासन की मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत सामूहिक विवाह का कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसमे जिले के 113 जोड़े विवाह बंधन में बंधे। कार्यक्रम राजीव लोचन मन्दिर प्रांगण में आयोजित हुआ। प्रदेश की महिला एवं बाल विकास और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत सांसद चुन्नीलाल साहू, विधायक धन्नेद्र साहू, अनिता शर्मा ने कार्यक्रम में पहुंचकर वर-वधु को आशीर्वाद दिया।
कार्यक्रम पूरी तरह धार्मिक रीति-रिवाजों के तहत संपन्न हुआ। शादी की सभी रस्में भी निभाई गयी। बारात निकाली गई, बारात में नाच गाना हुआ और मंडप में पहुंचने पर बारात की अगुवाई भी की गई।  पंडित जी द्वारा मंत्रोउचारण कर सात फेरे दिलाए गए। वर-वधु को शासन द्वारा जरूरी उपहार भी भेंट किया गया। वर-वधु के साथ आये मेहमानों को भोजन भी कराया गया। स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने भी वर-वधु को आशीर्वाद दिया। कार्यक्रम में पहुंचे अतिथियों का पगड़ी पहनाकर स्वागत किया गया।
महिला बाल विकास मंत्री अनिला भेड़िया ने वर-वधु को आशीर्वाद देते हुए कहा कि सामूहिक विवाह फिजूल खर्च को रोकने की दिशा में अहम कदम है। उन्होंने दुल्हनों को सुझाव दिया वे अपने सुसराल जाकर परिवार की सेवा करें और आत्मनिर्भर बनने के लिए सरकार की योजनाओं का लाभ लेकर आगे बढ़े। छोटा व्यापार या व्यवसाय कर परिवार की आर्थिक स्थिति में अपना योगदान दे सकती है।
जिले के प्रभारी एवं प्रदेश के खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने बराती ओर घराती सभी को बधाई देते हुए इस योजना को सरकार की महत्वकांशी योजना बताया। उन्होंने मेला मड़ाई को प्रदेश की संस्कृति का प्रतीक बताते हुए ऐसे मौके पर होने वाले सामूहिक विवाह के आयोजन को महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि सीएम भुपेश बघेल किसान परिवार से ताल्लुक रखते है और किसानों एव ग्रामीणों की परेशानियों को भली भाँति समझते है इसलिए उन्होंने सबसे पहले किसानों के लिए योजनाए बनाई है।
विधायक धन्नेद्र साहू ने नवदंपतियो को आशीर्वाद देते हुए कहा कि उनकी सरकार ने ही योजना में दिए जाने वाले उपहार राशि को बढ़ाकर 15 से 25 हजार किया था। जिससे लाभार्थियों के लिए फायदेमंद साबित हो रहा है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments