HomeNATIONALCHHATTISGARHहसदेव अरण्य में हो रही बलपूर्वक पेड़ों की कटाई के विरोध में...

हसदेव अरण्य में हो रही बलपूर्वक पेड़ों की कटाई के विरोध में आंदोलनरत आदिवासियों को समर्थन देने पहुंचे आप नेता

रायपुर। आज आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी आप नेताओं के साथ हरिहरपुर में हसदेव अरण्य में पेड़ों की कटाई के विरोध में आंदोलनरत आदिवासियों को समर्थन देने धरना स्थल फिर से पहुंचे। कोमल हुपेंडी ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का हसदेव अरण्य मामले में फैसला लेने के लिए अब ज़मीर मर चुका है।

उन्हें अब जनहित और आम जनता की तकलीफें नहीं दिख रहीं हैं।आंदोलन स्थल पर बड़ी संख्या में प्रभावित ग्रामीण पेड़ों की कटाई का विरोध कर रहें हैं और आंदोलन पर बैठ गए हैं। प्रदर्शनकारियों में बड़ी संख्या महिलाओं और बच्चों की भी है।वहीं मौके पर आंदोलनकारियों से वन विभाग के अधिकारी बात मनाने के लिए आदिवासियों के बीच पहुंचे,किन्तु आम आदमी पार्टी के निवेदन के बाद भी उपस्थित पदाधिकारियों को कुछ जवाब न देकर वापस चले गए।

कोमल हुपेंडी ने कहा कि बलपूर्वक इस कार्य को कर हम कभी वहां खदान नहीं खुलने देंगे। जब ग्रामीण साल 2019 से खदान खोलने का विरोध कर रहे हैं तो सरकार ने खनन की इजाजत क्यों और किसको फायदा पहुँचाने दी है। काटे जा रहे इसी जंगल पर आदिवासी ग्रामीणों की आजीविका निर्भर है और इससे प्रकृति को बड़ा नुकसान होगा।

जंगल में रहने वाले लाखों जानवरों का जीवन समाप्त हो जायेगा,लेकिन इसके बाद भी राज्य सरकार ने ग्रामीणों के हितों को नहीं माना है ? भूपेश सरकार सिर्फ अडानी को फायदा पहुँचाने सारी कवायद कर रही है क्योंकि उन्हें अडानी की दलाली करनी है? कल तो सरगुजा कांग्रेस भी विरोध में शामिल हो गई लेकिन सरकार अपनी मनमानी से बाज नहीं आ रही है। आम आदमी पार्टी के प्रतिनिधि मंडल में प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी,सह संयोजक सूरज उपाध्याय ,प्रदेश कोषाध्यक्ष जशबीर सिंह ,यूथ विंग के प्रदेश अध्यक्ष तेजेन्द्र तोड़ेकर ,लव कुमार ,रविन्द्र सिन्हा, कौशल यादव सहित लगभग 50 साथी आम आदमी पार्टी की तरफ से मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments