HomeNATIONALCHHATTISGARHराज्यपाल अनसुइया उइके राजिम माघी पुन्नी मेला संत समागम में हुई शामिल,...

राज्यपाल अनसुइया उइके राजिम माघी पुन्नी मेला संत समागम में हुई शामिल, धर्म नगरी राजिम को बताया श्रद्धा और आस्था का प्रतीक

फारुख मेमन गरियाबंद। छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनसुइया उइके आज राजिम मेले में संत समागम के अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में पहुंच मुख्यमंच से संत समागम का शुभारंभ किया। राज्यपाल ने इससे पहले राजीवलोचन मंदिर में पूजा-अर्चना कर प्रदेश की सुख समृद्धि की कामना की। तकरीबन दो घण्टे के अपने राजिम प्रवास के दौरान राज्यपाल ने गंगा आरती में भी भाग लिया और शासकीय स्टॉल का निरीक्षण  कर शासन की योजनाओं को जान उनकी तारीफ की

राज्यपाल उइके ने मुख्यमंच से राजीवलोचन की प्रतिमा पर दीप प्रज्जवलित कर संत समागम का शुभारंभ किया। इस दौरान प्रदेश के धर्मस्व मंत्री ताम्रध्वज साहू सहित कई बड़े नेता और साधु संत भी उपस्थित रहे। राज्यपाल उइके ने प्रदेशवासियों को राजिम माघी पुन्नी मेला की बधाई देते हुए प्रदेशवासियों की सुख शांति की कामना की। उन्होंने राजिम को धर्म, आस्था, संस्कृति का केंद्र बताया। उन्होंने कहा कि यहां आने पर आत्मीय शांति महसूस होती है। राज्यपाल में इस वर्ष की व्यवस्थाओं पर संतोष जताया। सरकार के 15 दिन शराबबंदी के फैसले पर हर्ष जताया। उन्होंने लोगो को भी मेले के दौरान शराब का सेवन नही करने की सलाह दी। इसके अलावा जिला प्रशासन की प्रदर्शनी को लाभदायक बताया। उन्होंने कहा कि इससे लोगो को शासकीय योजनाओं की जानकारी मिलेगी और जागरूकता बढ़ेगी। धर्मस्व मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा इस वर्ष मेले में परिवर्तन के साथ अच्छा करने की कोशिश की गई है। उन्होंने राजिम नगरी को आस्था और अध्यात्म का अदभुत संगम बताया।
उन्होंने इस वर्ष मेले में कुछ नया काम हाथ मे लेने की  जानकारी भी दी। उन्होंने बताया कि इस वर्ष मेले में विकास उन्मुखी कार्य शामिल किए गए है। जिसमे हितग्राहियो को लाभांवित किया जा रहा है। राजिम विधायक अमितेष शुक्ल ने राजिम नगरी के महत्व का वर्णन किया। उन्होंने मेले के दौरान 15 दिनों तक राजिम क्षेत्र में शराबबंदी पर सरकार का आभार व्यक्त किया। गौसेवा आयोग के अध्यक्ष रामसुंदर दास ने सभी की सुख समृद्धि की कामना की। उन्होंने कहा छत्तीसगढ़ सरकार ने यहां की संस्कृति के संरक्षण एवं संवर्धन का बीड़ा उठाया है सिरकट्टी आश्रम के गोवर्धन शरण महाराज ने सभी को साधुवाद दिया।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments