HomeNATIONALCHHATTISGARHमुख्यमंत्री ने किया झीरम घाटी शहीद मेमोरियल का लोकार्पण,शहीदों को अर्पित की...

मुख्यमंत्री ने किया झीरम घाटी शहीद मेमोरियल का लोकार्पण,शहीदों को अर्पित की श्रद्धांजलि

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को झीरम घाटी शहीद मेमोरियल का लोकार्पण किया। उन्होंने झीरम घाटी में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। यह मेमोरियल
32 शहीदों की याद में स्थापित किया गया है। लोकतंत्र पर सबसे बड़े हमले में शहीदों की याद में आम जनता को झीरम घाटी शहीद मेमोरियल समर्पित है।
मुख्यमंत्री ने झीरम घाटी के शहीदों को सलामी दी। उन्होंने झीरम घाटी शहीद मेमोरियल का निरीक्षण किया।
झीरम घाटी शहीद मेमोरियल में शहीदों के परिजनों से मुख्यमंत्री ने मुलाक़ात की। शहीदों के परिजनों की हिम्मत और हौंसले की तारीफ की। हर सुख दुख में साथ रहने का मुख्यमंत्री ने वादा किया। परिजनों को शॉल, श्रीफल और पौधा के रूप में झीरम स्मृति चिन्ह दिया।
झीरम घाटी शहीद मेमोरियक से मुख्यमंत्री आनलाइन वर्चुअल जुड़े।
झीरम दिवस पर प्रदेश के अलग अलग शहरों से भी शहीदों के परिजन जुड़े। मुख्यमंत्री ने वर्चुअल रूप से लोगों से बात की। आज 25 मई है,9 साल पहले आज ही के दिन बस्तर की झीरम घाटी में नक्सली हमले में हमने अपने अनेक वरिष्ठ नेताओं, जवानों सहित 32 लोगों को खो दिया था। उन 32 शहीदों में कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, वरिष्ठ नेता विद्याचरण शुक्ल,महेंद्र कर्मा, उदय मुदलियार, योगेंद्र शर्मा जैसे अनेक लोगों के नाम शामिल हैं। बहुत से कार्यकर्ता, जवान और आम लोग भी उस हमले में शहीद हो गए थे। सीएम ने कहा कि झीरम घाटी की हृदयविदारक घटना में शहीदों को नमन करता हूं। झीरम के शहीदों को नमन करते हुए मैं जगदलपुर में बनाए गए झीरम घाटी शहीद स्मारक को लोकार्पित कर रहा हूं। परिवर्तन के लिए निकले थे पहले पंक्ति के जन नायक। पूरे प्रदेश, किसानों, युवाओं, छात्रों, बच्चों, महिलाओं के जीवन में परिवर्तन चाहते थे। आज वे हमारे बीच नहीं, पर उनका मार्गदर्शन सदैव बना हुआ है। आज छत्तीसगढ़ में हर किसी के साथ न्याय हो रहा है। आज हमारे नेता होते तो बहुत खुश होते।
वो जहां भी होंगे आज हम सभी को आशीष दे रहे होंगे। सरकार शहीद परिवारों के सुख दुख में हम सभी साथ हैं। हम सभी शहीदों के परिवारों के साथ परिवार की तरह जुड़े हुए हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments