HomeNATIONALCHHATTISGARHCG NEWS : न्याय की गुहार लगाने तहसीलदार की गाड़ी के सामने...

CG NEWS : न्याय की गुहार लगाने तहसीलदार की गाड़ी के सामने लेटा युवक…

बलौदा बाजार : बलौदा बाजार जिले के नवीन तहसील टुंड्रा के अंतर्गत ग्राम हसुवा में तहसीलदार चित्ररेखा चंद्रवंशी ने पूर्व से काबिज किसान के मकान को तोड़ दिया. इस कार्यवाही के बाद पीड़ित किसान टीकम साहू का पुत्र योगेश साहू न्याय पाने तहसीलदार की गाड़ी के सामने लेट गया जो कि वीडियो सोसल मिडीया में जमकर वायरल हो रहा है ।

दरअसल मामला योगेश साहू के बताए अनुसार की अपने निजी भूमि 2711 रकबा 0.040 हे. व 2713/3 रकबा 0.032 हे. से लगे पूर्वज के काबिज हिस्से पर मकान निर्माण किया, जिसे रेशमलाल साहू  ने मकान निर्माण पर स्थगन आदेश लाकर काम रुकवा दिया. इसके बाद तहसीलदार कसडोल ने जमीन की जांच कराने के बाद 2713/1 पर टीकम प्रसाद साहू ग्राम हसुवा द्वारा 0.105 हे., रेशमलाल साहू कोटियाडीह द्वारा रकबा 0.007 हे., राजेश ग्राम धमलपुर द्वारा 0.002 हे., श्यामलाल साहू ग्राम कोटियाडीह द्वारा 0.0 58 हेक्टेयर पर बेजा कब्जा पाया गया.कसडोल तहसील के विभाजन के बाद यह केस नवीन तहसील कार्यालय टुंड्रा आ गया. फिर इस केस को नया तहसीदार टुंड्रा ने अवलोकन कर सभी के खिलाफ बेदखली वारंट 28 फरवरी को पारित किया और साथ ही कब्जा हटाने के लिए 13 मार्च निर्धारित कर समन जारी किया.लेकिन बेजा कब्जा नहीं हटाने पर नियम के मुताबिक हटाया जाना बताया. इसकी सूचना 13 मार्च को मिला था फिर टीकम प्रसाद साहू ने न्यायालय तहसीलदार टुंड्रा को 28 मार्च को निष्पादन की कार्यवाही स्थगित रखने आवेदन किया.

तहसीलदार टुंड्रा ने बेदखली वारंट में शासकीय भूमि पर से अतिक्रमण हटाने की बात कही फिर भी एकपक्षीय कार्यवाही करते हुए जेसीबी से मकान को तोड़ दिया गया, जिससे टीकम साहू को अपूर्णीय क्षति हुई. जिसपर टीकम साहू ने बताया की दूसरी बार जब बेदखली वारंट निकाला तो इसकी सूचना दिए बगैर मेरा मकान तोडा गया, जो न्यायसंगत नहीं है. कानून के खिलाफ है जब टीकम का मकान तोड़कर तहसीलदार जाने लगी तो भेदभाव पूर्ण कार्यवाही करने का आरोप लगाते हुए पीड़ित टीकम का पुत्र योगेश कुमार साहू ने नोटिस में शामिल अन्य लोगो के मकान व बेजा कब्जा तोड़ा जाए.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments